fbpx
Thursday, June 30, 2022
Home Business Cryptocurrency की आड़ में करोड़ों की ठगी, भारतीय निवेशकों को लगा 1,000...

Cryptocurrency की आड़ में करोड़ों की ठगी, भारतीय निवेशकों को लगा 1,000 करोड़ का चूना


Photo:FILE

Cryptocurrency 

Highlights

  • क्रिप्टो में निवेश कर रहे हैं तो हो जाएं सावधान, लगातार बढ़ रहे हैं धोखाधड़ी के मामले
  • मोदी कमाई का लालच देकर क्रिप्टो निवेशकों से ठगा जा रहा पैसा
  • सोशल मीडिया पर फेक प्रोफाइल बनाकर निवेशकों से किया जा रहा संपर्क

Cryptocurrency में निवेश का ट्रेंड तेजी से बढ़ा है। हालांकि, अब इसी की आड़ में निवेशकों के साथ धोखाधड़ी भी की जा रही है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि नकली क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों से भारतीय निवेशकों को 128 मिलियन डॉलर (लगभग 1,000 करोड़ रुपये) से अधिक का नुकसान हुआ है। साइबर-सुरक्षा कंपनी क्लाउड एसईके ने कहा कि उसने कई फिशिंग डोमेन और एंड्रॉइड-आधारित नकली क्रिप्टो एप्लिकेशन से जुड़े ऑपरेशन का खुलासा किया है।

नकली डोमेन बनाकर धोखाधड़ी को अंजाम

क्लाउडएसईके को एक पीड़ित ने संपर्क किया था, जिसने इस तरह के एक क्रिप्टोकरेंसी घोटाले में कथित तौर पर साथ ही जमा राशि, कर इत्यादि जैसी अन्य लागतों के अलावा 50 लाख रुपये (64,000 डॉलर) खो दिए थे। क्लाउडएसईके के संस्थापक और सीईओ राहुल ससी ने कहा, हमारा अनुमान है कि धोखेबाज इस तरह के क्रिप्टो घोटालों के माध्यम से पीड़ितों को 128 मिलियन डॉलर (लगभग 1,000 करोड़ रुपये) तक का चूना लगाया है। ससी ने कहा, जैसे ही निवेशक क्रिप्टोकरेंसी बाजारों पर अपना ध्यान केंद्रित करते हैं, स्कैमर और धोखेबाज भी उनका ध्यान अपनी ओर आकर्षित करते हैं। धोखेबाज पहले नकली डोमेन बनाते हैं जो वैध क्रिप्टो ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का कॉपी होता है। इसी के जरिये वो फर्जीवाड़ा को अंजाम देते हैं।  

सोशल मीडिया का भी सहारा 

धोखेबाज निवेशकों से संपर्क करने और दोस्ती स्थापित करने के लिए सोशल मीडिया पर एक महिला प्रोफाइल बनाते हैं। इस तरह का प्रोफाइल एक विशेष क्रिप्टो एक्सचेंज को उपहार के रूप में 100 डॉलर का क्रेडिट भी साझा करता है, जो इस मामले में एक वैध क्रिप्टो एक्सचेंज का डुप्लिकेट है। नकली एक्सचेंज निवेशकों को शुरुआत में मुनाफा देता है, जिससे उनका विश्वास बढ़ता है। मुनाफा कमाने के बाद, स्कैमर उन्हें बेहतर रिटर्न का वादा करते हुए अधिक राशि का निवेश करने के लिए मना लेता है। एक बार जब निवेशक नकली एक्सचेंज में अपना पैसा जोड़ता है, तो उसके खाते को फ्रीज कर दिया है। इस तरह निवेशक का पैसा हजम कर दिया जाता है। 





Source link

RELATED ARTICLES

Thanks to Support using this Blog site.

Most Popular

W3C Announces Major Change

HTML और ब्राउज़र गोपनीयता जैसे वेब मानकों के प्रभारी मानक निकाय वर्ल्डवाइड वेब कंसोर्टियम (W3C) ने इसके संचालन के तरीके में एक महत्वपूर्ण...

U.S. FCC Commissioner Requests Google & Apple To Ban TikTok

यूनाइटेड स्टेट्स फ़ेडरल कम्युनिकेशंस कमिशन (FTC) कमिश्नर ने टिकटॉक पर उपयोगकर्ता डेटा की कटाई का आरोप लगाया और Apple और Google से अपने...

VIDEO: ग्रॉसरी शॉपिंग करते-करते अचानक नाचने लगे दिलजीत दोसांझ, विदेशी गाने पर जमकर झूमे पंजाबी स्टार

मुंबईः पंजाबी सिंगर और अभिनेता दिलजीत दोसांझ (Diljit Dosanjh) बखूबी जानते हैं कि पार्टी की शुरुआत अपने गानों से कैसे की जाती है,...

‘महाराष्ट्र ने एक समझदार और सभ्य मुख्यमंत्री खोया’ : संजय राउत ने उद्धव ठाकरे के इस्तीफे पर कहा

मुंबई. शिवसेना सांसद संजय राउत ने बुधवार रात कहा कि महाराष्ट्र ने उद्धव ठाकरे के रूप में एक समझदार और सभ्य मुख्यमंत्री खो दिया...

Recent Comments